Loading...

Category: Columns In Zee

तिनका-तिनका : हाशिए के पार की एक दुनिया, जो खुद को सृजन से जोड़ रही है

तिनका तिनका:   जनवरी 2, 2018 डॉ. वर्तिका नन्दा भैश सिंह साहू के लिए पेंटिंग नई जिंदगी की सौगात लेकर आई है. उसका परिचय एक चित्रकार का ही है, लेकिन इसमें [ … ]

तिनका तिनका : बंद दरवाजे खुलेंगे कभी… आंखों में न रहेगी नमी, न होगी नमी

तिनका तिनका:   दिसंबर 5, 2017 डॉ. वर्तिका नन्दा आरती आज बहुत खुश थी. आज फिर वह एक नई भूमिका में है. उसे मंच पर एक बड़ी भीड़ के सामने एक [ … ]

तिनका तिनका: अमानवीय होती जेलों को अब सुधरना ही होगा

तिनका तिनका:   नवंबर 19, 2017 डॉ. वर्तिका नन्दा ऐसा लगता है कि साल 2017 जेलों को लेकर चिंतन और अवलोकन का साल रहा है. इस साल सितंबर में जस्टिस एमबी [ … ]

जेल हमेशा अंत हो, यह जरूरी नहीं…

तिनका तिनका:   सितंबर 27, 2017 डॉ. वर्तिका नन्दा 23 सितंबर की सुबह नई दिल्‍ली के एक बड़े सभागार में एक खास समारोह था. तिहाड़ जेल और पुलिस अनुसंधान एवं विकास [ … ]

Editor's choice