Loading...

Category: Columns on Prisons

‘संजू’ और वे लोग, जिनके रिश्ते जेल के अंदर हैं…

जब फिल्‍में जेल जैसे विषय को असंवेदनशीलता के साथ दिखाती हैं तो वे उस मकसद को तोड़ देती हैं, जिसके लिए फिल्‍म का निर्माण किया गया था. राजकुमार हिरानी की [ … ]

तिनका-तिनका: कब सुधरेंगी उत्तर प्रदेश की जेलें?

कानून और व्यवस्था ही नहीं बल्कि जेलों के मामले में भी उत्तर प्रदेश बेदम है. उत्तर प्रदेश की आधी से ज्‍यादा जेलों में अपनी निर्धारित संख्या से 150 प्रतिशत से [ … ]

मदर्स डे: जेल में मां, बच्चे और सजा

मातृ दिवस पर खूब तस्वीरें खिंचीं. प्रचार हुआ. मांओं की वंदना में गीत हुए. बचपन को भी सम्मान मिला. लेकिन कुछ मांएं और कुछ बच्चे किसी को याद न आए. ये [ … ]

दो आंखें बारह हाथ और देश की खुली जेल…

जेलें एक आम रास्‍ता नहीं है. यही वजह है कि जेलों के बारे में जानने के लिए साहित्‍य और फिल्‍में सबसे आसान साधन बनती हैं. यह माध्यम कभी कोरी कल्पना और कभी [ … ]

तिनका तिनका : जेलों में बेकाबू ‘भीड़’ और सुप्रीम कोर्ट की जायज चिंताएं

तिनका तिनका : वर्तिका नंदा अप्रैल 9, 2018 मार्च के आखिरी हफ्ते में सुप्रीम कोर्ट में मौजूद रहकर भारत की 1382 जेलों की अमानवीय स्थिति पर हो रही सुनवाई का हिस्सा बनना [ … ]

खुली जेलों पर सुप्रीम कोर्ट, मीडिया और मानवाधिकार

तिनका तिनका : वर्तिका नंदा मार्च 19, 2018 देश की 1382 जेलों की बदहालत ने अब सुप्रीम कोर्ट को सामने आने पर मजबूर कर दिया है. राजस्‍थान लीगल सर्विस अथॉरिटी [ … ]

Editor's choice