Loading...
2018Tinka Tinka Bandini Awards

जेल में रहते हुए सराहनीय काम करने वाली महिला कैदियों को तिनका तिनका सम्मान

पोर्ट ब्लेयर अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर अंडमान निकोबार के नेशनल मेमोरियल सेलुलर जेल के बाहर महिला कैदियों को सम्मानित किया गया. इन महिलाओं को उनके द्वारा किए जा रहे सराहनीय कार्य के लिए  तिनका-तिनका बंदिनी अवार्ड‘ से सम्मानित किया गया है. खास बात यह है कि जिन पांच महिला कैदियों को इस सम्मान से नवाजा गया उनमें से एक कैदी को मौत की सजा दी गई है जबकि तीन अन्य कैदी उम्र कैद की सजा काट रही हैं.

इऩ पुरस्कारों को अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के समाज कल्याण विभाग की सचिव और आईएएस अधिकारी रश्मि सिंह ने रिलीज किया। इस मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान सेलुलर जेल की निदेशक डा. रशीदा भी मौजूद थीं। महिला कैदियों को दो कैटेगरी ( स्कूल एंड कौशल और आर्ट एंड क्रिएटिविटी कैटेगरी) में सम्मानित किया गया. जिन कैदियों को सम्मानित किया गया है उनमें फमिदा हनीफ सैय्यदमिनाबेन हरसुरबाई खुमानसरोज देवीमुस्कान और बेबी शामिल हैं.

गौरतलब है कि फमिदा हनीफ जो नागपुर जेल में बंद है को प्रिजन एडमिनिस्ट्रेशन को मदद करने के लिए यह सम्मान दिया गया है, वहीं राजकोट की जेल में कैद मिनाबेन को जेल में बंद कैदियों के बच्चों को पढ़ाने के लिए सम्मानित किया गया जबकि सरोज देवी को फिरोजाबाद के जेल में कैदियों के कपड़े सिलने में मदद करने के लिए यह सम्मान दिया गया है. 

READ  Women inside jails honored: Tinka Tinka Bandini Awards
Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Editor's choice